मॉडल पारुल की चुदाई बरसात में

0
Loading...

प्रेषक : राजीव

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम राजीव हैऔर में मुंबई का रहने वाला हूँ। में एक फिल्म मेकर हूँ। मेरी अभी तक शादी नही हुई है। दोस्तों मेरी एक मॉडल दोस्त है। उसका नाम पारूल 5′ 7 गोरा रंग  पतली कमर दिखने में बहुत ही सेक्सी है वो।

बहुत दिनों से मिलने का प्लान बना रहा था। लेकिन पूरा नहीं हो पा रहा था। उसने एक फिल्म के लिए शूट किया था वो मेरी लोकल वीडियो शूट कर रही थी तो उसने मुझे हाँ कर दी थी हम रात को एक होटल में मिलने वाले थे। और हल्की बारिश हो रही थी मैं वहाँ पर पहले पहुँच गया और मैने ड्राइवर को गाड़ी पार्क करने के लिए कह दिया था।

वो वहाँ पर बस पहुचने वाली थी अपनी कार से सिर्फ पांच मिनट में तभी उसकी कार वहाँ पर पहुंची। मैने देखा की वो खुद कार चला रही थी और तभी उसने कार का दरवाजा खोला और बाहर निकली तो मैं उसे देख कर हैरान रह गया। वो बहुत खूबसूरत लग रही थी। उसने नीले रंग की वन पीस शॉर्ट ड्रेस पहन रखी थी। उसकी गौरी जांघ भी पूरी तरह से साफ दिखाई दे रही थी। में तो बहुत देर से उसे ही घूरे जा रहा था। तभी वो पास आई उसने मुझे इशारा किया और में उसके पीछे चलने लगा तो देखा उसकी ड्रेस पीछे से खुली वाली थी। उस ड्रेस में से उसकी काली ब्रा बिलकुल साफ दिख रही थी।

मुझे अच्छा लगने लगा था थोड़ी देर हम केफे लॉज में बैठे। उसने ड्रिंक करने से मना किया लेकिन मेरे कहने पर वो मान गई मैने एक ड्रिंक ऑर्डर कर दी थी। धीरे धीरे म्यूजिक तेज और गर्म माहोल हो गया और हमे बात करने के लिए बार बार एक दूसरे के पास आना पड़ रहा था। एक दो बार उसकी गर्म साँसें मेरे कानों को छू कर निकली तो मैं सिहर गया। अब मेरा लंड खड़ा हो चुका रहा था और थोड़ा गीला भी जब म्यूज़िक ज़्यादा तेज़ हो गया तो वो बैठे बैठे ही थिरकने लगी। अब उसने अपना पैर मेरे पैर से छुआ और मुझे इशारा किया डांस फ्लोर पर जाने के लिये धीरे धीरे खुमारी बढ़ रही थी। अंधेरा माहौल हल्की रोशनी उसकी परफ्यूम और उसका जिस्म मैं पागल हो रहा था। कुछ ही देर में हम दोनो बहुत करीब आ गये थे और एक दूसरे को छूकर नाचने लगे और कुछ ही देर में रोमेंटिक सा म्यूज़िक प्ले होने लगा और सभी जोड़े काफ़ी हल्के एक दूसरे को पकड़ कर कमर में हाथ डाल कर डांस कर रहे थे। हर तरफ सिर्फ़ परछाईयां नज़र आ रही थी। कुछ परछाईयों में दो सिर अलग दिख रहे थे कुछ में सिर एक दूसरे से जुड़े हुए थे। अब पारूल थोड़ी सी थकने लगी थी। अब हम भी एक दूसरे को बाँहों में लेकर डांस कर रहे थे। तभी मेरे दोनो हाथ उसकी कमर पर थे और उसके दोनो हाथ मेरे कंधों पर अब हमारी नज़दीकियाँ बढ़ रही थी।

बात करने के लिए अब भी हमें एक दूसरे के कानों तक आना पड़ता था। उसके बालों की खुश्बू मुझे मदहोश कर रही थी। फिर उसने भी एक वोड्का शॉट लगा लिया था और हम वापस अपनी उसी पोज़िशन में डांस करने लगे थे। एक दूसरे को पकड़ कर हम बहक रहे थे। मैने धीमे से एक चुंबन उसकी नंगी बाँह पर किया। वो मुस्कुराई रुकी और आंखे उठा कर मुझे देख रही थी फिर बोली आप बहक रहे हो। मैने ना सुनने के बहाने चेहरे और करीब किये। अब उसके होंठों की कंपन मुझे बहुत अच्छे से महसूस हो रही थी। मैने धीमे से उसका नीचे का होंठ अपने होठों से दबाया वो रुकी थोड़ा पीछे हुई और फिर उसके होंठ नज़दीक आने लगे। इस बार मैंने ऊपर का होंठ अपने होंठों में दबाया अब उसकी जीभ थोड़ी बाहर आने लगी।

मैने फ्रेंच किस केअंदाज़ में उसकी जीभ से अपनी जीभ मिलाई। और फिर होंठ और हम एक दूसरे में खोने लगे थे। मेरे हाथ अब उसके कुल्हों से उतर कर उसकी गांड पर सहलाने लगे। मेरे छूने से ही उसकी पेंटी की लाइन पता चल रही थी। फिर मैने उसकी गर्दन पर किस किया। अब हमे रुका नहीं जा रहा था। मैने फोन का बहाना किया और अपने ड्राइवर को जाने के लिए कह दिया। फिर उसे बताया की ड्राइवर लेट नाईट होने का नाटक कर रह था तो मैने उसे वापस भेज दिया।

उसने कहा यहाँ पर भी अब घुटन सी हो रही है। चलो बाहर मेरी गाड़ी में बाहर कहीं घूमते हैं। मुंबई की सड़कों पर हल्की बरसात में खूबसूरत लड़की जिसने अभी मुझे किस किया था। अब मेरा प्लान कामियाब हो रहा था। वो गाड़ी ड्राइव करने लगी सीट बेल्ट उसके बूब्स को दबा रही थी और दोनो बूब्स उभर कर बाहर आ रहे थे। अब गाड़ी थोड़ी सुनसान सी जगह पर थी। पानी के आस पास हम काफ़ी देर से चुप थे और तभी उसने गाड़ी रोक दी और बोली: तुम चुप क्यूँ हो?

Loading...

मैने कहा में चुप नहीं हूँ में सोच रहा था उस लिप किस को जो कुछ देर पहले हुआ था और ये सुनते ही वो शरमा गयी। मैने उसका चेहरा हाथों में लिया और फिर उसके होंठों को चूमने लगा उसने सीट बेल्ट खोल दी थी और अब सीट पीछे की ओर झुका दी थी। अब हम दोनों गरम हो चुके थे। उसने धीमे से कान में मुझसे पूछा क्या तुम अपने साथ में कंडोम लाये हो? में कंडोम हमेशा साथ रखता हूँ तो मैंने हाँ किया उसने गाड़ी एक तरफ लगाई और हम दरवाज़ा खोल कर उसकी पिछली सीट पर आ गये वो बारिश से हल्की भीग गयी थी।

अब मैं उसे बिना रुके चूमने लगा। फिर धीरे से उसकी छोटी सी ड्रेस को ऊपर किया और अपनी पेंट कि ज़िप खोली मेरा 8 इंच का लंड अंदर बुरी तरह गीला था। मैने लंड पर कंडोम चढ़ाया इतने में उसने अपनी पेंटी उतार कर सिरहाने रख ली। मैने उसकी टांगे अलग की और फिर अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया। उसकी चूत बहुत ही गीली थी। मेरे लंड डालने के एक मिनट में ही वो पिघल गई मूझे उसकी टांगे कांपती महसूस हुई। मैने रफ़्तार बढ़ा दी उसकी सिरहाने रखी लाल पेंटी उसकी चूत रस से सराबोर महक रही थी। मैं पागल हो रहा था और फिर तेज धक्कों के बीच वो ना जाने कब झड़ गई उसे फिर भी बहुत मजा आ रहा था और इस बार मेरा भी वीर्य निकल गया। अब हम शरमाते हुए से कुछ देर पड़े रहे और बाहर बरसात हो रही थी।

Loading...

हम सीट पर आ बैठे फिर वो बोली क्या इरादा है। फिर वो खुद ही बोली मेरे घर चलोगे मैने उसके थोड़े नंगे कंधों को चूमते हुए उसकी ब्रा को सूंघते हुए हाँ कर दी। हम उसके घर पहुँचे हम दोनों थोड़े भीग गये थे। अब वो रोशनी में दिखाई दे रही थी। अब वो जाकर किचन में चाय बनाने लगी। में भी उसके पीछे ही किचन में चला गया। मुझे उसकी ब्रा अब भी दिख रही थी पीछे से आज मेरा मन उसे पूरा नंगा देखने का था। मैने उसके गीले से बाल हटा कर उसकी पीछे से खुली ड्रेस से उसकी कमर को सूँघा और किस किया। वो पलटी फिर उसने मेरी शर्ट उतार दी और वो मेरे कन्धो पर हाथ फेरती हुई मेरे निप्पल चाटने लगी। मैने गेस बंद की और उसकी ड्रेस कंधे से नीचे सरका दी तभी वो बोली क्या चाहते हो और मैं उसे उठा कर बिस्तर पर ले आया। वो उठ बैठी और ड्रेस कूल्हे तक नीचे खिसका दी।

और दूसरी तरफ मुँह करके लेट गयी। मैने अपने सारे कपड़े उतार दिए अंडरवेर छोड़ कर उसके गोरे जिस्म को चूमने लगा। तभी मेरे हाथ उसके पीछे आये और मैने ब्रा के हुक खोल दिए। मैंने ब्रा पूरी तरह उतार दी मैं उसकी ड्रेस नीचे खींच रहा था। वो शरमाने लगी फिर बोली रुको मेरी वो नीचे गाड़ी में ही छुट गयी है। अब मैं और थकने लगा मैंने झटके से ड्रेस खींच दी अब वो पूरी नंगी थी।

मादक जिस्म की मल्लिका उसकी चूत के आस पास ट्रिम किए हुएछोटे छोटे बाल थे। वो शरमा कर बोली क्या है। अब मैं पूरा शैतान बन चुका था। मैंने उसकी जांघें चूमनी शुरू की वो सी सी करती रही। मैं ऊपर बढ़ता गया उसकी गीली चूत का पानी बहने लगा। मैंने उसकी चूत के होंठ अपनी दोनो उँगलियों से खोल दिए और उसे चाटने लगा उसे बहुत मजा आ रहा था। मेरे पास बहुत समय था क्योंकि मैं एक बार उसे कुछ समय पहले ही चोद चुका था। अगली बार टाइम ज़्यादा लगना तय था। मैने उसके पावं अपने कंधे पर रखे।

फिर वोरुकने को बोली उसने सिरहाने से टूडे की एक गोली चूत में डाल ली। मैं यह सब देख रहा था मुझे इस बार कंडोम नहीं लगाना पड़ेगा। फिर उसने मेरा लंड पकड़ा और अपनी चूत में घुसा लिया और मैंने उसके बूब्स मुँह में लिये और चूस रहा था। कभी उसकी बगलों की महक पागल करती तो मैं उन्हे चाटता। मेरे धक्के तेज़ हो रहे थे फिर उसके नाख़ून मेरे पीठ में गढ़ने लगे। उसकी सिसकियाँ निकल रही थी। मुँह खुला और टाँगें काँप रही थी।

अब मैं उसे तेज़ी से चोद रहा था।और साथ में लगे आईने में यह सब नज़ारा भी देख रहा था। उसके मुहं से अवाज़ नहीं आ रह रही थी। मेरे धक्के ओर तेज़ हो गये मैने उससे पूछा क्या तुम फिर से एक बार चुदना चाहती हो। उसने आँख मारी मैंने अपना लंड पूरा निकाल कर फिर अंदर डाला और धक्के गहरे मगर हल्के कर दिए। वो फिर बिलकने लगी और बोल रही थी चोदो मुझे तुम्हारा कुतिया बनाकर चोदना मुझे बहुत पसंद है। मेरे मुँह से निकल रहा था। या हां मुझे भी पसंद है तम्हे इस तरह चोदना लेकिन सही में तुम्हे चोदना बहुत बड़ा काम था। मेरा वीर्य उसकी चूत में निकल गया। मैं निढाल हो गया था और वो भी। दोस्तों उस चुदाई के बाद मैने उसे कई बार चोदा वो हर चुदाई पर अलग अलग तरह से चुदाई करवाती थी।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


mami ne muth marihindi saxy storesex new story in hindihindi storey sexysax hinde storedukandar se chudaidadi nani ki chudaisex khaniya in hindi fontkamuka storyfree hindisex storiessex hindi sexy storysexi stroysexy kahania in hindiupasna ki chudaisexy storry in hindisexy stiorysexy story hindi comhindi sex ki kahanisex kahani hindi fonthindi font sex storieshindi sexy story hindi sexy storysex ki story in hindinew hindi sexy storysex com hindihindi sx kahanihindi sexy storueshindhi sexy kahanihindhi sex storisimran ki anokhi kahanisexy story com in hindisexsi stori in hindisexy story new in hindihindi sex story in voicefree sexy story hindiall new sex stories in hindidesi hindi sex kahaniyanhindisex storiesexy story in hindi fontsex stories for adults in hindisexi hindi kathasexi kahani hindi mehidi sexi storyhindi sexy stroeshindi sex story free downloadhimdi sexy storysexy hindi story readhindi sex kahani hindi fonthindisex storyssex khaniya hindihindi sex stories read onlinehendi sexy storeyhindi sexy setoryhinde sax storesexy stoy in hindihindi audio sex kahaniasagi bahan ki chudainew hindi story sexyhindi sexy kahanisax hindi storeysexe store hindesex ki hindi kahanisexi hindi estorikamukta comchudai story audio in hindisex sex story hindihindi sex ki kahanisexy storry in hindisex story in hidisexy storiynanad ki chudaihindi sex ki kahaniread hindi sexhindi front sex storybadi didi ka doodh piyahendhi sexsexy stori in hindi fontgandi kahania in hindihinde sexy kahanihindisex storiesex stories hindi indiadesi hindi sex kahaniyannew hindi sexy storysexey stories comsexi hindi kahani comanter bhasna comhimdi sexy storysexy stoies in hindisexy story un hindiarti ki chudaiindian sex stories in hindi fontssex hindi font storynew hindi sexy storysex hindi sexy storyhindi sax story