बहन बन गई घरेलू रांड

0
Loading...
प्रेषक : राजन
हाय दोस्तों. में राजन यह मेरी पहली स्टोरी है. में कामुकता का बड़ा फेन हूँ ये घटना एक साल पहले की है मेरी कंपनी ने मेरी ट्रान्सफर की थी मुंबई मे मेरे एक भी गर्लफ्रेंड नही थी मुझे जो भी लड़की दिखती मुझे उसे ठोकने का मन करता मेरे सारे दोस्तो के गर्लफ्रेंड थी  और वो उनके साथ
मज़े भी मारते थे. 

 
मेरी बहन भी मुंबई मे ही पढ़ती थी  वो मेरे मौसी की बेटी है उसका नाम है गौरी (होस्टल मे रहती थी). में उससे फोन पर बहुत बाते करता था मुझे वो बड़ी अच्छी भी लगने लगी थी हम दोनो घूमने बाहर जाते एक साथ फिल्म देखते एक दिन हम दोनो फिल्म देख रहे थे तो उसने मेरे हाथ मे हाथ डाला जैसे की वो मेरी गर्लफ्रेंड हैं मुझे बड़ा अच्छा लगा उसके बाद में जब जब उसके साथ घूमने जाता में भी उसका हाथ पकड़ लेता मेरी बहन दिखने मे सांवली हैं. उसका फिगर बहुत हॉट हैं. उसका साइज 34-28-35 होगा. मुझे उसके बॉल्स बाहर से ही बड़े दिखते थे. 

 
ऐसे घुलते मिलते 3-4 महीने बीत गये मैने एक 1 बड़ा फ्लेट किराये पर लिया था जहा मैं अकेला ही रहता था बहुत मनाने के बाद  एक दिन वो मेरे फ्लेट पर आई उसने जीन्स और एक  टाइट टी शर्ट पहना था  जिससे उसके बूब्स और भी बड़े लग रहे थे मैने उसे अपने पास बुलाया, तो वो थोड़ा घबराई मैने उसे कहा की में तेरा भाई हूँ  मुझसे क्या डरना  तो वो मेरे बहुत पास आ कर बैठ गयी. 

 
गौरी : भाई तू शादी कब करेगा 

मे : -जब कोई अच्छी लगे. 

गौरी : कैसी लड़की चाहिये तुम्हे 

मे : -तुम्हारे जैसी 

गौरी : -मज़ाक मत करो भाई बोलो ना. 

 
मैने उससे कहा सच मे मुझे तेरे जैसी लड़की चाहिये उसने बात टाल दी और दूर जा कर बैठ गयी में हर रोज उसे फ्लेट पर लाने लगा  भाई भाई करके उसके बदन से लिपट जाता फिर जब वो चली जाती तो उसके नाम की मूठ मार लेता मुझे अब वो बहुल अच्छी लगने लगी थी एक दिन वो शाम को फ्लेट पर आई रात के 8 बजे थे मैने उसे रात को रुकने को बोला थोड़ा मनाने के बाद वो मान गयी जैसे की में अकेला रहता था मेरे पास एक ही गद्दी थी. तो हम दोनो खाना खाकर उस गद्दी पर सो गये थोड़ी देर बाद वो मुझे बोली भाई मुझे तेरा हाथ दो ना मेरे पास तकिया भी नही हैं तो मैने उसे मेरा हाथ दिया मेरा लंड खड़ा हो गया था.
मैने फिर उसके साइड मे हो कर उसकी तरफ मुँह किया और उसे भी मेरी तरफ मुँह करके सोने  के लिये बोला थोड़ी देर बाद मैने उसे छेड़ने के बहाने उसकी कमर पर हाथ रखा और गुदगुदी करने लगा. थोड़ी देर बाद उसकी सास फूलने लगी. मैने उसे ज़ोर से अपनी और खीचा और उसकी टी शर्ट मे पीछे से हाथ डालकर उसकी पीठ सहलाने लगा अब वो बड़ी गर्म हो चुकी थी मैने अब उसके ब्रा का हुक निकाल दिया था थोड़ी देर के बाद मैने उसे पेट के बल सुलाया और उसकी पीठ पर सोते हुये उसके बॉल्स दबा रहा था. 

 
थोड़ी देर मे मैने उसकी गर्दन को कुत्ते की तरह चूमना शुरू किया इसकी वजह से गौरी बहुत  ही गर्म हो गयी और वो भी मुझे चूमने लगी अब मैने उसका शर्ट निकाल दिया और अब वो मेरे सामने सिर्फ़ ब्रा पहने बैठी थी मैने उसकी जीन्स भी उतार दी और में भी नंगा हो गया अब गौरी मेरा लंड हाथ मे ले कर हिला रही थी मैने उसके बूब्स चूसे क्या मस्त बूब्स थे मेरी बहन  के बहुत ही गोल और बड़े बॉल्स थे गौरी के मैने उसकी चूत मे उंगली डाली और हिलाने लगा वो अब मेरा लंड जोर ज़ोर से हिला रही थी मैने उसके सारे कपड़े उतार दिये और मेरे सामने नंगा किया अब वो मेरे पकड़ मे आ गयी थी मैने फिर मेरा लंड उसके मुँह मे डाला उसने भी उसे जोर ज़ोर से चूसना शुरू किया. 

 
गौरी: -भैया ये क्या मुँह मे डाल रहे हो मुझे अच्छा नही लग रहा है. 

Loading...
मे: -अरे ये तो सब करते है अब में और तू भाई बहन नही रहे में अब तेरा यार हो चुका हूँ  अब तुझे मेरी सारी बाते माननी पड़ेगी.
 
गौरी: -भैया 15 मिनिट से चूस रही हूँ और इसका टेस्ट भी नमकीन आ रहा है. 

फिर मैने उसके बाल पकड़े और ज़ोर से मुँह मे लंड हिलाने लगा उसे बहुत दर्द हो रहा था  और मुझे मज़ा आ रहा था 15 मिनिट के बाद मैने मेरा पूरा वीर्य उसके मुँह मे झाड़ दिया उसको भी अब उसका टेस्ट अच्छा लगा अब मेरा लंड छोटा हो गया तो गौरी ने उसे फिर से मुँह मे लिया और चूसने लगी लंड फिर खड़ा हो गया अब मैने गौरी की चूत पर लंड का सूपड़ा रगड़ने लगा  गौरी मीठे दर्द मे तड़पने लगी. 

 
गौरी: -भाई आपका लंड मेरी चूत मे डालो ना. 

मे: -क्या साली  भाई का लंड लेने के लिये बड़ी तड़प रही है. 

गौरी: हाँ, तूने ही कहा ना की तू मेरा यार है चल अब डाल दे तेरा लंड. 

में: -उसकी बातो से मेरा लंड फिर तन गया मेरा लंड 7 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा था मैने उसकी चूत पर लंड रख कर एक धक्का दिया वो जोर से चिल्लाई में रुक गया और फिर एक ज़ोर का धक्का दिया. 

गौरी: -अब रुक ना, फट जायेगी मेरी चूत.  

में: -मैने उसकी नही सुनते हुये एक और धक्का दिया अब मेरा पूरा लंड मेरी जान की चूत मे चला गया अब मैने उसकी चूत में अन्दर बाहर करना शुरू किया. 

 
गौरी: -वाउ! क्या लंड है तेरा चोद मुझे और चोद बहनचोद है तू अपनी ही बहन को चोद रहा है एयेए आओउू चोद ले चोद अपनी बहन को में तेरी रांड हूँ चोद मुझे. 

में: -हाँ रंडी साली बहुत दिनो से तंग कर रही थी आज तुझे मेरे लंड का मज़ा दिखाता हूँ. 

गौरी: -में तेरी रंडी हूँ, छीनाल हूँ मुझे हर एक स्टाइल मे चोद मुझे बहुत मज़ा आ रहा है. 

मे: -क्यों नही, तेरी जैसी माल बहन क्या दूसरे को दूँ चोदने के लिये मैने तेरा सील तोड़ दिया. तू आज से मेरी रखेल बन गयी जब भी बुलाऊंगा तुझे, आना पड़ेगा मेरे लंड के नीचे सोने के लिये. 

गौरी: -में आउंगी जब भी बुलायेगा तू तेरी रखेल को, तेरी रखेल तेरे नीचे सोने के लिये आयेगी. मुझे इतना चोद की मैं उठ ना सकूं” 

Loading...
में: -बोला रांड है तू,  इतनी खुजली तो किसी छीनाल मे ही होती है. 20 मिनिट से चोद रहा हूँ  फिर भी लंड माँग रही है. 

गौरी: -में हूँ छीनाल, तेरी छीनाल में तेरी आज से रांड हूँ. 

मे : –फिर रांड को उसके यार की हर बात माननी पड़ती हैं” 

गौरी: -बोल मेरे राजा क्या चाहिये तुझे. 

मे: -मुझे तेरी गांड मारनी है 

गौरी: -बहुत दर्द होगा. 

मे: -अभी भी हुआ था दर्द लेकिन बाद मे मज़ा आया ना,  वैसे गांड मे भी मज़ा आयेगा अब वो मेरे सामने घोड़ी बनी थी मैने मेरे लंड को ऑयल लगाया और उसकी भी गांड के छेद मे ऑयल डाला धीरे धीरे मैने उसकी गांड मे लंड डाल दिया और उसकी सावली गांड मारने लगा उसकी गांड से खून आ रहा था मगर गौरी को ये नही समझ मे आया. 

 
गौरी: -मेरे भाई, मार अपनी बहन की गांड क्या मस्त चोद रहा है तू आज से मैं सिर्फ़ तुझसे ही चुदूगी ले जितना चोदना चाहता है उतना चोद मेरी गांड को  ये आज से तेरी हुई. 

गौरी: -आज से तेरा लंड मेरा और मेरी गांड और चूत तेरी. 

में: -मैने भी उसकी गांड बहुत मारी उस रात मे मैने उसकी चूत मे और गांड मे दो दो बार चोदा उस दिन के बाद वो मुझसे लगभग रोज चुदती है वो मेरी घरेलू रांड़ बन गयी थी. 

 
उसकी हालत बड़ी खराब हो गयी थी अगर 3-4  दिन उसे में नही मिलता तो वो तड़पने लगती. में भी उसे रोज चोदता हूँ. एक साल मे मैने उसे कम से कम 100 बार चोदा होगा. मैने अब शादी कर ली है जब भी मेरी पत्नी मायके जाती हैं मेरी बहन ही मेरी पत्नी बन जाती है और मेरा बिस्तर संभालती है. आजकल में दो लड़कियां चोद रहा हूँ. मेरी बीवी और मेरी बहन को और दोनों ही मुझे खुश कर रही है। 

धन्यवाद ..

 

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


sexy adult hindi storybhabhi ne doodh pilaya storyhindi sexy khanihindi sexy storehindi chudai story comsexi stories hindihindi font sex storiesfree hindi sex storieshindi sexy sorymosi ko chodasexi hidi storysex story hindi indiansex hindi stories freesexy story in hindi fontsexy story in hindi fonthindi sexi kahanihindi sexy storisesexy stroies in hindisexy stiry in hindihindi sexy storysex sexy kahanihindi sex story hindi mesexy story un hindisex ki hindi kahanisexy story new in hindisexey stories comsexy story in hindi langaugehindi sex storey comhhindi sexhindi chudai story comsx storyschudai kahaniya hindihindi sex kahaniya in hindi fonthindi sexy story in hindi fontsexstores hindiwww sex kahaniyasaxy hind storyhinde sex storechut fadne ki kahanisexey stories comsexi hidi storysex story of in hindinew sexi kahaninew hindi story sexynew hindi sexy story comsexy storishkamuktha comhindi sex katha in hindi fonthindi sex stories in hindi fontfree hindi sex story in hindinew hindi sexy storystory for sex hindisex stories in hindi to readsexi story audiosexy story in hindi fonthindi history sexhinde sexi kahanihinfi sexy storysexy story in hindi languagesex khaniya in hindi fonthindi sex kahaniya in hindi fontnew hindi sexi storyhindi sexy storeyhindisex stormonika ki chudaisx storyshindi sexy story in hindi fonthondi sexy storysexy story in hundinew hindi sex storylatest new hindi sexy storyhindisex storeyhindi sex story free downloadsex stories in audio in hindisexey storeyhinde sax storyhindi sex stories in hindi fontkamukta audio sexsexy story new in hindihinfi sexy storyhindi sexy khanihindi front sex storysexy storiyhinde sexi kahanisex ki hindi kahanisex story in hindi languagebhabhi ko nind ki goli dekar chodahindi sexy storisehindy sexy storyhindi sex stosex story hindi allhindi sex story hindi languagestory in hindi for sexsexcy story hindihinde sexi storesaxy hind story